|| मोर्वी नंदन श्याम की जय ||

अति प्राचीन श्याम मंदिर मुण्डरु

सीकर जिले के श्री माधोपुर तहसील के मुण्डरु गाँव में बाबा श्याम का अत्यंत प्राचीन मंदिर स्तिथ है | यह मंदिर जमीन के अन्दर 16 फीट की गहराई में है | साथ ही अब नवमंदिर उपर बनाया गया है जो कांच की कारीगरी और श्याम लीला के चित्रण से अत्यंत सुन्दर बना है | यहा श्याम बाबा के दो शीश के दर्शन प्राप्त होते है | जमीन के निचे जो मंदिर है वो यहा खुदाई में प्राप्त हुआ था | यह मंदिर किसने बनाया और कब बनाया इसके बारे में कोई नही जानता है | खुदाई में मिले इस मंदिर में श्याम बाबा के शीश को ऊपर नए मंदिर में स्थापित किया गया है | निचे जमीन के निचे अन्य शीश को लगाया गया है | यहा दर्शन कर अत्यंत शांति प्राप्त होती है | यहा जात जदुलो के लिए लोग दूर दूर से आते है | हर श्याम भक्त को यहा एक बारे आकर बाबा के संभवत सबसे प्राचीन मंदिर के दर्शन जरुर करने चाहिए | सीकर जिले से यह 57 किमी तो श्री माधोपुर से यह 10 किमी की दुरी पर स्तिथ है | रींगस से यह दुरी 13 किमी तो खाटू श्याम जी से यह दुरी 25 किमी की दुरी पर है |

mundru shyam temple

मुंडरूपी पहाड़ी

इस गाँव में एक पहाड़ी है जिसका आकार श्याम बाबा के शीश जैसा ही है | इस पहाड़ी का नाम मुंडरी है | संस्कृत में मुंड का अर्थ शीश है जो संभवत श्याम बाबा के शीश के आधार पर है अत: इस गाँव का नाममुण्डरु रखा गया है |
अधिक जानकारी के लिए बात करे : पुजारी रामचंद्र स्वामी जी (8432175254)

shyam darshan mundru temple

agra shyam mandir darshan

पढ़े : कैसे चढ़ाये खाटू श्याम जी को निशान - जाने पूजन विधि और नियम


श्याम बाबा से जुड़े यह लेख भी जरुर पढ़े ..


खाटू श्याम जी पूजन विधि

खाटू श्याम जी के परम भक्त कौन है

कैसे करे श्याम बाबा की पूजा

श्याम बाबा की एकादशी और द्वादशी की महिमा

फाल्गुन मेला खाटू धाम 2018

खाटू श्याम मंदिर कमिटी

shri khatu shyam ji